• Quickies

    Raat ki khamoshi mere jaise mood m




    कभी बेचैन होती है कभी सुकून में होती है ये रात की 

    खामोशी जाने क्यों हमेशा मेरे जैसे ही मूड में होती है ।

    Kabhi bechain hoti hai kabhi sukoon me hoti hai ye raat ki ,
    Khamoshi jaane kyo hamesha mere jaise hi mood me hoti hai .