• Quickies

    Lahre girti hai ashq banke




    जो रखे है संभाल कुछ समुंदर दिल में मैंने शायर ,
    जब उठती है लहरे उनमे तो गिरती है अश्क़ बनके । 


    Jo rakhe hai sambhal kuch samundar dil me maine shayar ,
    Jab uthati hai lahre unme to girti hai ashq banke .