• Quickies

    कान्हा तेरी प्रीत में है गयी में दिवाणी



    कान्हा तेरी प्रीत में है गयी में दिवाणी
    राधा तेरी प्रेम दिवाणी मीरा दरश दिवाणी
    दर दर भटके दर दर घूमे वा तो दरश दिवाणी
    कान्हा तेरी प्रीत में है गयी में दिवाणी
    नाय कछु सोचूँ नाय कछु समझूँ
    बस तेरे दर्शन की प्यासी रे कान्हा तेरे चरणन  की दासी
    कान्हा तेरी प्रीत में है गयी में दिवाणी
    रोते और पथराते नैना तेरी राह निहारें
    सूखे और प्यासे अधरों से तेरा नाम उचारें
    हो, दर्शन दैजा रे सांवरिया सुध बुध गयी बिसरानी
    कान्हा तेरी प्रीत में है गयी मैं दिवाणी ।

    Viky Chahar