• Quickies

    Befikri me dil jiye kaise

    Befikri m dil kaise jiye itna adam tohfa jo mere pass hai ,
    Beparwah hoke m sanse lu kaise har sans m meri ghulti jo teri Sans h ,
    Kahte hai log shayar itna wajan kaise likhe huye alfaazo me tere ,
    M kehta hu sabse anmol husn-e-shyahi qki mere pass hai .

    बेफिक्री में दिल कैसे जिये इतना अदम तोहफा जो मेरे पास है ,
    बेपरवाह होके मै सांसे लू कैसे हर साँस में मेरी जो घुलती तेरी साँस हो ,
    कहते है लोग शायर इतना वजन कैसे लिखे हुए अल्फाज़ो में तेरे ,
    मैं कहता हु सबसे अनमोल हुस्न-ए-श्याही क्योंकि मेरे पास है ।