• Quickies

    Dil ke saaj mere

    वक़्त के हालातो में ढले है अलफ़ाज़ मेरे ,
    जरूरत है सबसे जयदा जिसकी मुझे वही रहती है कम आज कल साथ मेरे ,
    कैसे कम ही दर्द सीने का बता मुझे ए शायर ,
    कोई सुनने को तैयार ही नही है जब दिल के साज मेरे ।

    Waqt ke halato m dhale h alfaz mere ,
    Jarurat h sabse jyda jiski mjhe wahi rhti h kam aaj kal sath mere ,
    Kaise kam ho dard sine ka bata mujhe e shayar ,
    Koi sunne ko tayyar hi nhi h jab dil ke saaj mere .