• Quickies

    Hum bhi bichad gye aaj

    हम भी जो बिछड़ गए आज तो इसमें नया क्या हुआ ,
    आखिर जुदाई तो मुहब्बत की तासीर में ही लिखी होती है ।

    Hum bhi jo bichad gye aaj to isme naya kya hua ,
    Akhir judai to muhbbat ki tasir me hi likhi hoti hai .