• Quickies

    Dil ke lahu ki syahi

    दिल के लहू को श्याही
    सासों को कागज बना ,
    इबादत-ऐ-मोहब्बत लिख दी, हमने,जिंदगी भर के लिए
    तस्तरी में भरे पानी में चमकता हुआ चाँद
    दूर होते हुए भी ,जितना करीब
    रहता है
    मोहब्बत -ऐ-अंजाम में वो सख्श आज भी
    मेरे उतना ही करीब है ।।